Back Date Degree in Delhi – दिल्ली से बैकडेट डिग्री कैसे प्राप्त करे?

Back Date Degree in Delhi – भारतीय संविधान के अनुसार शिक्षा नागरिको के मूल अधिकारों में से एक है लेकिन ज भी देश के कई लोग विभिन्न कारणों की वजह से शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाते। लेकिन क्युकी नौकरी प्राप्त करने के लिए आज के समय में डिग्री एक अनिवार्यता बन चुकी है तो ऐसे में शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाने वाले कई लोग फर्जी तरीको से डिग्री बनवाने की कोशिश करते हैं। वर्तमान में देश में कई तरह की फर्जी डिग्रियां बनाई जाती है जिनमे से एक Back Date Degree भी है। विभिन्न राज्यों के साथ दिल्ली में भी बैक डेट डिग्री का काम जोरो शोरो से चल रहा है और इस लेख में हम आपको ‘Back Date Degree in Delhi’ के बारे में पूरी जानकारी आसान भाषा में देंगे।

Back Date Degree क्या होती हैं?

पिछले कुछ सालो में बेहतरीन नेतृत्व की वजह से और विभिन्न कामो में आई डिजिटलाइजेशन की वजह से बैक डेट डिग्री साहिक कई फर्जी कामो में काफी कमी आई है लेकिन आज भी देश में कई जगहों पर बैक डेट डिग्री का काम पुरे जोश के साथ हो रहा हैं। कई शिक्षण संसथान और फर्जी काम करके मुनाफा कमाने वाली एजेंसिया बैक डेट डिग्री बनवाने का काम जोरो शोरो से कर रही हैं। दिल्ली में भी काफी तेजी से बैक डेट डिग्री बनवाने का काम चल रहा हैं।

अगर आप नहीं जानते की बैक डेट डिग्री क्या होती है तो जानकारी के लिए बता दे की वह डिग्री जो यह दर्शाती हो की व्यक्ति ने कुछ सालो पहले अर्थात डिग्री पर दी हुई दिनांक पर किसी स्पेसिफिक कोर्स से ग्रेजुएशन पूरी की हैं, बैक डेट डिग्री कहलाती हैं। कई शिक्षण संस्थानऔर फर्जी एजेंसिया बिना ग्रेजुएशन किये ही ऐसी डिग्रिया लोगो को बनाकर दे देती है जो यह दर्शाती है की डिग्री होल्ड करने वाले व्यक्ति ने किसी स्पेसिफिक कोर्स के साथ ग्रेजुएशन की हैं।

Back Date Degree क्यों बनवाई जाती हैं?

उत्तर प्रदेश, हरयाणा और राजस्थान जैसे कई राज्यों के साथ दिल्ली में ही बैक डेट डिग्री अर्थात फर्जी डिग्री बनवाने का काम जोरो शोरो से चल रहा है। एजेंटो और एजेंसियों के द्वारा विभिन्न शिक्षण संस्थानों के द्वारा असानो से Back Date Degree in Delhi प्राप्त की जा सकती हैं। कई लोग यह समझ नहीं पाते की आखिर बैक डेट डिग्री बनवाई क्यों जाती है? अगर आप भी उन्ही लोगो में से एक हो तो बता दे की मुख्य रूप से जॉब प्राप्त करने के लिए बैक डेट डिग्री बनवाई जाती हैं।

अगर आपने नोटिस किया हो तो वर्तमान समय में लगभग हर तरह की जॉब्स में डिग्री एक रिक्वायरमेंट होती है और आवेदक को तभी नौकरी दी जाती है तब उसके पास नौकरी के लिए पात्रता साबित करने वाली डिग्री हो। उदाहरण के तौर पर अगर किसी व्यक्ति को किसी प्राइवेट टीचर की नौकरी लगना है और अपनी पात्रता को दर्शाने के लिए उसे बीए बीएड की डिग्री चाहिए लेकिन व्यक्ति 12वी पास हो या फिर उसने बीएससी से ग्रेजुएशन की हो तो वह एक ऐसी बैक डेट डिग्री बनवा सकता है जो दर्शाती हो की उसने 3 साल पहले किसी स्पेसिफिक कॉलेज से बीए बीएड का कोर्स किया हो।

Back Date Degree in Delhi – दिल्ली में बैक डेट डिग्री कैसे बनवाये?

जैसा की हमने आपको बताया की दिल्ली भी उन राज्यों में से एक है जहा फर्जी बैक डेट डिग्री बनवाने का काम सबसे है। लेकिन क्युकी अब पहले के मुकाबले इस तरह के कामो में काफी सख्ती आ चुकी है तो ऐसे में बैक डेट डिग्री बनवाने का काम ऑनलाइन चलता हैं। अगर कोई व्यक्ति बैक डेट डिग्री बनवाना चाहता है तो ऐसी कई वेबसाइट्स अवेलेबल है जिनके द्वारा वह बैक डेट डिग्री बनवाने वाले एजेंट्स से कॉन्टेक्ट करके अपनी मर्जी के अनुसार बैक डेट डिग्री बनवा सकता हैं।

एजेंट्स से बात करने के बाद बस उसे अपनी रिक्वायरमेंट्स बतानी होती है और उसके बाद एजेंट आपका सारा काम कर देता है और आपसे कुछ पैसे लेकर आपको बैक डेट डिग्री उपलब्ध करवा देता हैं। अगर कोई व्यक्ति दिल्ली में बैक डेट डिग्री प्राप्त करना चाहता है तो उसके लिए उसे बस गूगल पर जाकर ‘Back Date Degree in Delhi’ सर्च करना है और उसे ऐसी कई वेबसाइट्स मिल जाएगी जो उसे ‘Back Date Degree in Delhi’ दिलवाने का काम करेगी। यह सभी वेबसाइट्स एजेंटो के द्वारा बनाई जाती हैं।

क्या Back Date Degree बनवाना सही हैं?

यह बात तो बिलकुल सही हैं की अगर कोई व्यक्ति चाहते हो Back Date Degree in Delhi आसानी से बना सकता है लेकिन यह बात बिलकुल भी सही नहीं हैं की बैक डेट डिग्री लीगल होती हैं। यह शिक्षा के क्षेत्र में होने वाले बड़े अपराधों में से एक हैं तो ऐसे में अगर कोई Back Date Degree in Delhi बनाने की सोच रहा है तो वह एक तरह से क्राइम करने जा रहा हैं। इस क्राइम के लिए फर्जी बैक डेट डिग्री बनवाने वाले व्यक्ति को भरी भरकम जुर्माना देना पड़ सकता है और साथ ही जेल भी जाने की नौबत आ सकती हैं।

Leave a Comment